अवसाद और उम्मीद के बीच तैरती फ़िल्म 'बिट्टू'

शॉर्ट फ़िल्म अपने आप में फ़िल्म निर्माण की एक स्वतंत्र विधा है. इस विधा में अल्प अन्तराल में कहानी कहनी होती है जिसमें चरित्रों को प्रस्तुत और स्थापित भी करना होता है, लिहाज़ा इसका एक विशिष्ट व्याकरण है और पटकथा लिखने की अलहदा शैली भी. फ़िल्म निर्माण कला के रूप ...

from Latest News बॉलीवुड News18 हिंदी https://ift.tt/34ZnNJv

Post a comment

0 Comments